Wednesday, June 19दुनियाभर की मजेदार खबरों और कहानियों का स्टॉल

Modi Sarkar 2.0 में अमित शाह को मंत्रिमंडल में मिलेगी ये भूमिका और ये दो दिग्गज नेता रहेंगे नदारद

Amit Shah

Lok Sabha Election 2019 : 17वीं लोकसभा के लिए हुए मतदान का परिणाम सामने आ चुका है, जिनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की सत्ता में जबरदस्त वापसी हुई है। इन चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने दम पर सत्ता में लौटी है उसके 303 प्रत्याशी जीत कर संसद पहुंचे हैं। इन चुनावों में एनडीए को 351 सीटें, कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) को 91, और अन्य को 100 सीटें मिली हैं।

भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिली इस धमाकेदार जीत के बाद उनके कार्यकाल के दूसरे मंत्रिमंडल पर अटकलें लगनी शुरू हो गई है। माना जा रहा हैं कि भाजपा की जीत के सूत्रधार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खास और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) को सरकार में अहम जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। पार्टी अध्यक्ष के रूप में उनका दूसरा कार्यकाल भी समाप्त हो रहा है ऐसे में उन्हें अब सरकार में सम्मानित पद दिया जाना तय है।

राजनैतिक गलियारों के खबरें आ रही हैं उनके मुताबिक, अमित शाह (Amit Shah) को मोदी सरकार 2.0 (Modi Sarkar 2.0) में गृह मंत्रालय का अहम पद दिया जा सकता है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह पर यही पोर्टफोलियो फिट भी बैठता है। वैसे भी सरकार में गृह मंत्रालय संभाल रहे राजनाथ सिंह को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्री हेंड नहीं दिया था। ऐसे में प्रधानमंत्री इस बार गृह मंत्रालय की जिम्मेदार फुल टाइम के लिए अपने सिपहसलार रहे अमित शाह को सौंप सकते हैं।

मोदी सरकार 2.0 (Modi Sarkar 2.0) में विदेश मंत्रालय का पद खाली है। सुषमा स्वाराज इस बार चुनाव नहीं लड़ी थी। ऐसे में राजनाथ सिंह को गृह मंत्रालय से विदेश मंत्रालय भेजा सकता है। वहीं कुछ समीकरण इस बात की ओर भी इशारा करते हैं कि राजनाथ सिंह को रक्षा मंत्रालय सौंपा जा सकता है वहीं निर्मला सीता रमण को विदेश मंत्रालय की कमान दी जा सकती है। वहीं रॉयटर्स सूत्रों के हवाले से खबर छापी है कि वित्त मंत्री अरुण जेटली भी स्वास्थ्य कारणों से इस सरकार (Modi Sarkar 2.0) में कोई छोटा मंत्रालय अपने पास रख सकते हैं।

ऐसे में हो सकता है कि दक्षिण से भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी की भी सरकार (Modi Sarkar 2.0) में एंट्री हो सकती है।अगले पांच साल में मोदी सरकार कई आउटकम जनता के सामने रखने होंगे। ऐसे में मोदी जी और अमित शाह किसी अनुभवी को वित्त मंत्रालय सौंप सकते हैं, जिसमें स्वामी को कैबिनेट में जगह मिल सकती है। ऐसा करके वे (मोदी-शाह) संघ को साध सकते हैं। वहीं शिवराज सिंह चौहान को भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है, जिस तरह से उन्हें कल शीर्ष पंक्ति में शामिल किया गया था। इससे कुछ ऐसे ही संकेत मिलते हैं।

संघ को साधने के लिए मोदी और अमित शाह भारतीय जनता पार्टी का अगला अध्यक्ष राम माधव को नियुक्त कर सकती है। उन्होंने जम्मू कश्मीर, पूर्वोत्तर और दक्षिण भारत में पार्टी के लिए अभूतपूर्व नतीजे दिलाने के लिए दिन रात मेहनत की है, जिसका इनाम उन्हें पार्टी अध्यक्ष पद देकर दिया जा सकता है।

नरेंद्र मोदी दूसरी बार भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर 30 जून को शपथ लेंगे। शुक्रवार, 24 मई को मोदी कैबिनेट ने 16वीं लोकसभा को भंग करने की सिफारिश की है। खबरें हैं भाजपा सोमवार 27 मई को भाजपा नई सरकार के लिए दावा पेश कर सकती है, जिसके बाद 28 प्रधानमंत्री वाराणसी के दौरे पर हैं और 30 को नई सरकार (Modi Sarkar 2.0) का शपथ ग्रहण समारोह होगा। इस शपथ ग्रहण समारोह से प्रधानमंत्री मोदी एक बार फिर सबको चौंका सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *